slider

Recent

Powered by Blogger.

Featured post

Share Blog Posts Automatically on Facebook,Twiiter and other Social Networks

If you think writing a blog post is over when you hit the publish button, Hello I think you should take a shower. Blog posts, (no matter h...

Search This Blog

Blog Archive

My Blog List

Text Widget

1
2
3
Navigation

30 May 2015 Daily Gk Power Capsule |Daily Current Affair Download |Top Headlines

30 May 2015 Daily Gk Power Capsule |Daily Current Affair Download |Top Headlines
30 May 2015 Daily Gk Power Capsule |Daily Current Affair Download |Top Headlines
30 May 2015 Daily Gk Power Capsule |Daily Current Affair Download |Top Headlines
1. Two Indian-origin women find place in Forbes’ inaugural list of America’s 50 richest self made women. The first ever list of the America’s top 50 richest, self-made women as measured by their net worths included Facebook COO Sheryl Sandberg, media mogul Oprah Winfrey, Hewlett-Packard CEO Meg Whitman, singer Madonna and Beyonce Knowles, among others. India-born Neerja Sethi, with a net worth of 1.1 billion US Dollar, ranked 14th while London born Jayshree Ullal with 470 million US Dollar net worth comes at the 30th spot on the list. Neerja, co-founded IT consulting and outsourcing company Syntel with her husband, billionaire Bharat Desai. Jayshree is the president and CEO of AristaNetworks.
भारतीय मूल की दो महिलाओं ने अपने दम पर सफलता के शिखर पर पहुंचने वाली अमेरिका की 50 सबसे धनी, महिलाओं की सूची में जगह बनाई हैं। अपनी तरह की इस पहली सूची में फेसबुक की मुख्य परिचालन अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग, मीडिया जगत की हस्ती ओफ्रा विनफ्रे तथा गायिका बेयोन्स जैसी हस्तियां शामिल हैं। भारत में जन्मीं नीरजा सेठी 1.1 अरब डॉलर के नेटवर्थ के साथ अपने दम पर सफलता हासिल करने वालों की सूची में 14वें स्थान पर हैं। वहीं लंदन में जन्मीं जयश्री उल्लाल 47 करोड़ डॉलर के नेटवर्थ के साथ 30वें स्थान पर हैं। नीरजा अपने अरबपति पति भरत देसाई के साथ मिलकर आईटी परामर्श तथा आउटसोर्सिंग कंपनी सिनटेल की सह-संस्थापक हैं। जयश्री एरिस्टा नेटवर्क की अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) हैं। 


2. The Spanish football club, Sevilla Football Club (FC) won Europa League title. Sevilla defeated Dnipro Dnipropetrovsk football club, 3-2. It was second consecutive Europa Cup win for Sevilla. With this, Sevilla, the Spain’s oldest club solely devoted to football practice, became the first side to win the Europa League four times. 

स्पेनिश फुटबॉल क्लब, सेविला फुटबॉल क्लब ने यूरोपा लीग खिताब जीत लिया है। सेविला ने यूक्रेन के क्लब निप्रो निप्रोपेट्रोस फुटबॉल क्लब को 3-2 से हराकर यूरोपा लीग जीत ली। यह सेविला के लिए लगातार दूसरी यूरोपा कप की जीत है। चौथी बार यह खिताब जीत सेविला ने इतिहास रच दिया। सेविला के ये सभी खिताब पिछले एक दशक में आए हैं। 


3. India has topped the world hunger list. India is home to the highest number of hungry people in the world, at 194 million, surpassing China, according to United Nations annual hunger report. At the global level, the corresponding figure dropped to 795 million in 2014-15, from 1 billion in 1990-92, with East Asia led by China accounting for most of the reductions, UN body Food and Agriculture Organisation (FAO) said in its report titled The State of Food Insecurity in the World 2015. India too saw a reduction between 1990 and 2015. In 1990-92, those who were starved of food in India numbered 210.1 million, which came down to 194.6 million in 2014-15. 

भारत विश्व भूखमरी सूची में शीर्ष पर है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया में सबसे अधिक 19.4 करोड़ लोग भारत में भुखमरी के शिकार हैं। यह संख्या चीन से अधिक है। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य व कृषि संगठन (एएफओ) ने अपनी रिपोर्ट ‘द स्टेट ऑफ फूड इनसिक्योरिटी इन द वर्ल्ड 2015’ में यह बात कही है। इसके अनुसार दुनियाभर में यह संख्या 2014-15 में घटकर 79.5 करोड़ रह गई, जो कि 1990-92 में एक अरब थी। हालांकि भारत में भी 1990 तथा 2015 के दौरान भूखे रहने वाले लोगों की संख्या में गिरावट आई। 1990-92 में भारत में यह संख्या 21.01 करोड़ थी, जो 2014-15 में घटकर 19.46 करोड़ रह गई। 


4. Eminent scientist Dr. Selvin Christopher has been appointed as the Director General (DG) of Defence Research and Development Organisation (DRDO) along with the rank of a secretary. As a DG of DRDO, he will also severe as Secretary at Department of Defence Research and Development (DDR&D) for a period of 2 years from the date of taking over the charge. 

जानेमाने वैज्ञानिक डॉ. सेलविन क्रिस्टोफर को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) का महानिदेशक नियुक्त किया गया। उनका कार्यकाल 2 साल का होगा। क्रिस्टोफर डीआरडीओ के महानिदेशक के साथ-साथ रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग (डीडीआर एंड डी) के सचिव के रूप में भी कार्य करेंगे। 


5. Singapore has appointed an Indian- origin businessman as its non-Resident High Commissioner to Sri Lanka. S. Chandra Das served as Singapore's Ambassador to the Republic of Turkey, resident in Singapore, from 2006 to 2015. He had also previously served as Singapore's Trade Representative from 1970 to 1972 in the USSR, the former Soviet Union. 

सिंगापुर ने भारतीय मूल के एक उद्योगपति को श्रीलंका में अपना अनिवासी उच्चायुक्त नियुक्त किया है। एस. चंद्र दास इससे पूर्व 2006 से 2015 तक तुर्की में सिंगापुर के राजदूत रह चुके हैं। वे सोवियत संघ में वर्ष 1970 से 1972 तक सिंगापुर के व्यापार प्रतिनिधि के रुप में भी काम कर चुके हैं। 


6. Mahindra World City Developers Ltd, a subsidiary of Mahindra Lifespace Developers Limited, has signed a joint venture worth Rs. 375 crore with Japanese company Sumitomo Corporation to set up an industrial park in north Chennai (the NH5 corridor). One of the key enablers to catalyse the 'Make in India' initiative announced by the government is the key requirement for ready to use, quality infrastructure. 

महिंद्रा वर्ल्ड सिटी डेवलपर्स लि. चेन्नई के उत्तरी इलाके (एनएच 5 कॉरिडोर) में एक औद्योगिक पार्क की स्थापना करेगी। महिंद्रा लाइफस्पेस डेवलपर्स लि. की सहायक कंपनी महिंद्रा वर्ल्ड सिटी ने इसके लिए जापान की कंपनी सुमितोमो कॉरपोरेशन के साथ संयुक्त उपक्रम बनाने के लिए करार किया है। इस उपक्रम के माध्यम से 375 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा। सरकार की अहम योजना मेक इन इंडिया के लिए गुणवत्तापूर्ण बुनियादी ढांचा बेहद जरूरी है और यह इसी जरूरत को पूरा करता है। 


7. According to industry body CII India's economy can grow at 9-10 per cent in the medium-term with a multi-pronged economic strategy, outlining 10 areas requiring policy attention that can bring huge economic benefits for growth, investment and employment creation. The areas highlighted by the industry body for more attention include macro-economy, mining, manufacturing, land acquisition, energy, labour reforms, skill development, taxation, financial sector and Companies Act. 

उद्योग मंडल सीआईआई के अनुसार बहु स्तरीय आर्थिक रणनीति से मध्यम अवधि में देश की अर्थव्यवस्था 9 से 10 प्रतिशत की दर से वृद्धि कर सकती है। उद्योग मंडल ने 10 क्षेत्रों को रेखांकित किया जहां नीतिगत ध्यान देने से वृद्धि, निवेश और रोजगार सृजन के लिहाज से काफी आर्थिक फायदा हो सकता है। सीआईआई ने जिन क्षेत्रों को ज्यादा ध्यान देने की जरूरत बताई है उसमें वृहत अर्थव्यवस्था, खनन, विनिर्माण, भूमि अधिग्रहण, ऊर्जा, श्रम सुधार, कौशल विकास, कराधान, वित्तीय क्षेत्र तथा कंपनी कानून शामिल हैं। 


8. On the lines of Central government's 'Swachh Bharat Abhiyan', the Maharashtra Government launched 'Swachhata Saptapadi' scheme. The grants received by the municipal councils and corporations from the 14th Finance Commission will be linked with the successful implementation of the scheme. 

मोदी सरकार के 'स्वच्छ भारत अभियान' की तर्ज पर महाराष्ट्र सरकार ने 'स्वच्छ सप्तपदी' योजना का शुभारंभ किया है। 14वें वित्त आयोग से स्थानीय निकायों को मिलने वाले अनुदान से इस योजना को सफलतापूर्वक लागू किया जाएगा। 


9. Nebraska has become the 19th US state to abolish the death penalty. Nebraska has become the first traditionally conservative state to eliminate the punishment since North Dakota in 1973. Nebraska has not executed an inmate since a 1997 electrocution and the state has never imposed the punishment under the lethal injection process now required by state law. 

नेब्रास्का मौत की सजा खत्म करने वाला 19वां अमेरिकी राज्य बन गया है। 1973 में नॉर्थ डेकोटा में मौत की सजा खत्म होने के बाद नेब्रास्का पहला पारंपरिक कंजर्वेटिव राज्य है जहां मौत की सजा खत्म की गई है। नेब्रास्का में 1997 में एक अपराधी को इलेक्ट्रिक शॉक देने के बाद से अब तक किसी को मौत की सजा नहीं दी गई है। साथ ही राज्य ने सजा देने के लिए वर्तमान में लीथल इंजेक्शन प्रोटोकोल का भी प्रयोग नहीं किया। 


10. Nobel peace prize winning organisation OPCW (Organisation for the Prohibition of Chemical Weapons) has achieved major milestone of destroying 90 per cent of the global chemical weapons stockpile. OPCW has mentioned that around 65,000 metric tonnes of declared chemical weapons, mostly from US and Russian arsenals of cold war era have been destroyed in a safe manner. 

नोबेल शांति पुरस्कार विजेता संगठन, ओपीसीडब्ल्यू (रासायनिक हथियार निषेध संगठन) ने वैश्विक रासायनिक हथियार भंडार का 90 प्रतिशत नष्ट करने की एक बड़ी सफलता प्राप्त कर ली है। ओपीसीडब्ल्यू ने बताया है कि 65,000 मीट्रिक टन घोषित रासायनिक हथियार (ज्यादातर अमेरिका और रूस से शीत युद्ध काल के हथियार) एक सुरक्षित तरीके से नष्ट कर दिये गये हैं।
 
Share
Banner

Newstechcafe

Post A Comment:

0 comments: